Thursday, August 5, 2021

एनएच 119 डी की जद में आने वाले भू धारियों को मुआवजा जल्द

प्रभात रंजन वैशाली जिला में फोरलेन 119 डी के निर्माण के लिए पातेपुर प्रखंड के 21 राजस्व गांव, जंदाहा के 14 गांव, महुआ के 5 गांव, राजापाकर प्रखंड के 4 राजस्व गांव में कुल 204.03 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण की 3डी अधिसूचना जारी कर दिया गया है। जमीन मालिकों को मुआवजा भुगतान के बाद निर्माण कंपनी के चयन हेतु निविदा आमंत्रण की प्रक्रिया शुरू होगी। विदित हो कि यह बिहार की सबसे लंबी भारतमाला परियोजना है जो औरंगाबाद से आरंभ होकर दरभंगा तक जाती है। सड़क का निर्माण जल्द पूरा करने के लिए इसे 4 पैकेज में विभाजित कर डीपीआर तैयार किया जा रहा है। पैकेज 3 के खण्ड को एनएचएआई छपरा के प्रोजेक्ट डायरेक्टर विभूति भूषण कुमार की निगरानी में विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करवाया जा रहा है। हाजीपुर के राजापाकर प्रखंड के सरमस्तपुर से समस्तीपुर जिला के ताल दशराहा तक के भाग को पैकेज 3 में रखा गया है, जिसकी लंबाई 45 किलोमीटर है और 1150 करोड़ खर्च होने का अनुमान है। एनएचएआई से प्राप्त जानकारी के अनुसार 2024 तक इस सड़क को चालू होने की संभावना है। एनएचएआई छपरा के मैनेजर टेक्निकल अमित रौशन ने बताया कि 3 डी अधिसूचना के बाद जिला भू अर्जन पदाधिकारी के स्तर से एवार्ड घोषणा के बाद मुआवजा राशि की स्वीकृति प्राप्त कर भुगतान जल्द किया जाना है।

रिपोर्ट पोस्ट

इस लेखक के अन्य पोस्ट

ताज़ा लेख